Lucknow Local

लखनऊ : खालिस्तान समर्थक आतंकवादी सचिवालय चौराहे से हुआ गिरफ्तार

लखनऊ पुलिस के  विकासनगर व क्राइम ब्रांच की टीम द्वारा खालिस्तान समर्थक आतंकवादी जगदेव सिंह उर्फ जग्गा को सचिवालय चौराहे गिरफ्तार कर लिया गया  . बता दें उसका साथी पंजाब में गिरफ्तार किया गया था। पंजाब पुलिस के इनपुट पर आतंकी को दबोचा गया है। पुलिस ने पूछताछ के बाद कोर्ट में पेश किया। जहां से पंजाब पुलिस ट्रांजिट रिमांड पर लेकर चली गई।

यह भी पढ़ें : लखनऊ : चिनहट में बनेगा बापू का स्कूल, राष्ट्रपिता ने 1920 में रखी थी नींव 

लखनऊ के तार खंगालने में जुटी पुलिस
जेसीपी अपराध नीलाब्जा चौधरी के मुताबिक जग्गा का साथी जब अमृतसर में पकड़ा गया तो वह वहां से भाग निकला। वह पंजाब से दिल्ली फिर लखीमपुर पहुंचा। वहीं से लखनऊ की तरफ आ रहा था। लखनऊ में वह किससे मिलने आ रहा था? वह लखनऊ के रास्ते कहां जाने वाला था? इन सभी बिंदुओं पर लखनऊ पुलिस पड़ताल कर रही है। डीसीपी उत्तरी रईस अख्तर के मुताबिक जग्गा का नेटवर्क तलाशा जा रहा है। वह इस बात की भी पड़ताल की जा रही है कि कहीं किसान आंदोलन में लोगों को भड़काने और अन्य बिंदुओं के बारे में पड़ताल की जा रही है। कहीं इसका नेटवर्क उनसे तो नहीं है।

संयुक्त पुलिस आयुक्त निलाब्जा चौधरी के मुताबिक पंजाब पुलिस की स्टेट स्पेशल आपरेशन सेल अमृतसर की टीम ने संपर्क किया। सूचना दी कि खालिस्तान समर्थक एक आतंकवादी लखनऊ की तरफ जा रहा है। उसके साथी जगरूप सिंह को पंजाब में गिरफ्तार किया गया है। उसने लखनऊ की तरफ जाने की जानकारी दी। इसके बाद क्राइम ब्रांच व उत्तरी जोन की टीम सक्रिय हो गई। संयुक्त आपरेशन में पुलिस टीम ने सोमवार दोपहर को सचिवालय कालोनी चौराहे से दबोच लिया। पकड़ा गया आतंकवादी पंजाब के फिरोजपुर फतेगढ़ सबरा का रहने वाला है। उसकी तलाश पंजाब की स्टेट स्पेशल ऑपरेशन सेल की पुलिस कर रही थी।

यह भी पढ़ें : आम आदमी पार्टी सांसद संजय सिंह की याचिका खारिज, हाईकोर्ट ने नहीं दी राहत

विदेशों से फंडिंग करने वालों से जुड़े है तार
जेसीपी के मुताबिक जगदेव सिंह जग्गा के तार विदेशों से खालिस्तानी मूवमेंट के लिए होने वाली फंडिंग से भी जुड़े हैं। जग्गा और उसके पकड़े गये साथी को विदेशों से असलहों की खरीदारी के लिए फंड आते थे। जिसका खुलासा पंजाब की स्टेट स्पेशल ऑपरेशन सेल की जांच में हुआ। इसी आधार पर उसके साथी को रविवार को अमृतसर में दबोचा गया था। उससे पूछताछ में जग्गा की लोकेशन मिली। जग्गा व उसके साथी को फंडिंग इंग्लैंड से परमजीत सिंह पम्मा और जर्मनी से मलतानी सिंह कर रहा था। पुलिस ने सभी खातों पर लगातार निगरानी कर रही है। विदेशों से हो रही फंडिंग से राष्ट्रविरोधी गतिविधियों में जग्गा व उसके कई साथी सक्रिय हैं।

Related Articles

Back to top button