क्रैक करना चाहते हैं IBPS Clerk Exam, अपनाएं ये आसान टिप्स 

IBPS Clerk Exam : बैंक में नौकरी पाने का ख्वाब हर इंसान देखता है हालंकि सफलता उन्हें ही  मिलती है जो मेहनत और लगन के साथ जुटे रहते हैं। लेकिन इन सबके बीच कुछ अलग तरह के टिप्स अपनाने की ख़ास जरूरत होती है जिससे तैयारी करने वाला छात्र या छात्रा  आसानी से सफलता प्राप्त कर सकते हैं।

यह भी पढ़े : IBPS PO 2020: 3000 से अधिक पदों पर यहां हो रही भर्ती, आज से आवेदन प्रक्रिया शुरू 

बतादें IBPS ने क्लर्क पोस्ट के लिए 2557 पदों पर भर्ती प्रक्रिया फिर से शुरू की है। इसके लिए आवेदन प्रक्रिया 23 अक्टूबर से पुनः शुरू हो चुकी है। इच्छुक छात्र 6 नवंबर से पहले आवेदन कर सकते हैं। IBPS क्लर्क की प्रीलिम्स परीक्षा दिसंबर माह में होगी। वहीं मेंस की परीक्षा जनवरी माह में होगी। इतने कम समय में पूरी तैयारी करना छात्रों के लिए एक बड़ा चैलेंज है। जिसको मद्देनजर रखते हुए हम आपके लिए कुछ ऐसे टिप्स लेकर आए हैं जिससे आपको सफलता पाने में आसानी होगी। 

अपनाएं ये कुछ आसान टिप्स 
1. पूरे सिलेबस को समझें 

किसी भी प्रतियोगी परीक्षा को क्रैक करने के लिए शुरुआत से ही आपको सिलेबस पर ध्यान देना होगा। सबसे पहले आपको पूरे सिलेबस को अच्छे से पढ़ना और समझना होगा। इससे आपको यह अनुमान हो जाएगा कि कौन से टॉपिक पर आपको ज्यादा फोकस करना है।  

2. टाइम मैनेजमेंट 

IBPS क्लर्क परीक्षा की तैयारी के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है टाइम मैनेजमेंट पर ध्यान देना। जब आप सिलेबस को अच्छे से समझ लेते हैं तो आप यह निर्धारित कर सकते हैं कि कौन से विषय को कितना समय देना है। इसके बाद ही आप पढ़ाई करना शूरू करें। वहीं परीक्षा के सही पैटर्न को समझ कर अपनी स्पीड सही करने का प्रयास करें। बता दें कि प्रीलिम्स की परीक्षा में 100 प्रश्न पूछे जाते हैं जिसके लिए आपको सिर्फ 60 मिनट का समय मिलता है। इतने समय में सभी प्रश्नों को सॉल्व करने की क्षमता बनानी होगी। 

IBPS क्लर्क
IBPS क्लर्क

3. न्यूमेरिकल एबिलिटी सेक्शन पर विशेष ध्यान दें 

वैसे तो इस परीक्षा में 3 विषय – इंग्लिश, न्यूमेरिकल एबिलिटी और रीजनिंग होते हैं। लेकिन छात्रों को सबसे ज्यादा डर न्यूमेरिकल एबिलिटी सेक्शन में होता है। इस सेक्शन से 35 प्रश्न पूछे जाते हैं। जिसके लिए आपके पास 20 मिनट का ही समय होता है। आपको इस विषय पर कमांड बनाने के लिए ज्यादा से ज्यादा प्रैक्टिस करनी होगी। 

यह भी पढ़ें: NEET counselling 2020: राउंड 1 के लिए रजिस्ट्रेशन स्थगित, ऐसे करना है अप्लाई 

4. सही स्टडी मैटेरियल का चयन 

अक्सर छात्र परीक्षा को लेकर इतने नर्वस हो जाते हैं कि वो यह नहीं विचार कर पाते कि उन्हें पढ़ना कैसे है। इस चक्कर में कई सारे किताबों और नोट्स की मदद लेने लगते हैं। लेकिन मैं यहां सुझाव देना चाहूंगा कि आप कम से कम किताबों की मदद लें। सही स्टडी मैटेरियल का चुनाव करें। जैसे न्यूमेरिकल एबिलिटी सेक्शन के लिए आप NCERT की किताबों से पढ़ें। इससे आपके बेसिक टॉपिक बहुत अच्छे से तैयार हो जाएंगे। 

5. प्रैक्टिस करें 

जैसा कि ऊपर बताया गया है इस परीक्षा में 100 प्रश्नों को महज 60 मिनट में सॉल्व करना होता है। यदि आप बेहतर तैयारी करना चाहते हैं तो जितना ज्यादा हो सके प्रैक्टिस करें। खास कर न्यूमेरिकल एबिलिटी और रीजनिंग सेक्शन में।  

6. पुराने पेपर सॉल्व करें 

प्रैक्टिस के लिए सबसे सही साधन पुराने पेपर को सॉल्व करना है। आपको विगत कुछ वर्षों के पेपर इकट्ठा करने होंगे और उन्हें नियमित अभ्यास करना होगा। पुराने पेपर सॉल्व करने से आप अपनी स्पीड सही कर सकते हैं, आपको परीक्षा के सही पैटर्न का अनुमान लग जाएगा साथ ही प्रश्नों के लेवल के बारे में भी समझना आसान हो जाएगा। यह ट्रिक बहुत कारगर साबित होती है। 

7. खुद से नोट्स बनाएं 

IBPS क्लर्क जैसी परीक्षा की तैयारी के लिए आपको भीड़ से अलग काम करना होगा। जब भी आप पढ़ाई करें या प्रैक्टिस करें तो नोट्स जरूर बनाएं। नोट्स बनाने से आपको रोजाना पढ़ी हुई चीजों का ब्योरा एक जगह मिल जाएगा। साथ ही आप अपने विषयवार कमजोरी और तैयारी का आकलन भी कर पाएंगे। वहीं आपको परीक्षा से ठीक पहले सारे सिलेबस के नोट्स तैयार मिलेंगे, जिससे आप रिवीजन कर सकते हैं।