HEALTH
Trending

स्वादिष्ट और सेहतमंद है जामुन की शिकंजी! फटाफट नोट कीजिए हेल्दी रेसिपी

जामुन की शिकंजी किसी एनर्जी बूस्टर से कम नहीं है! यह आपको सेहत के कई लाभ भी देती है। यहाँ है रेसीपी.....

जामुन का मौसम आ गया है और बाजारों में जामुन देखते ही मुंह में पानी आने लगता है। हालांकि ज्यादातर लोग जामुन को साधारण तरीके से ही खाते हैं। लेकिन क्या आपने कभी जामुन की शिकंजी टेस्ट (jaamun shikanji recipe) की है? अगर नही! तो आपने एक बहुत ही स्वादिष्ट ड्रिंक को मिस कर दिया है। जामुन वैसे तो हमारी सेहत के लिए बहुत अच्छा है इस बात में कोई शक नहीं है लेकिन अगर जामुन को शिकंजी (jaamun shikanji recipe) के अंदाज में बनाकर सेवन किया जाए तो यह स्वादिष्ट हद से ज्यादा लगता है। साथ ही गर्मी के मौसम में जामुन की शिकंजी हमारे लिए एनर्जी बूस्टर की तरह काम करती है।

आसान है बनान जामुन की शिकंजी

खास बात यह है कि जामुन की शिकंजी बनाने के लिए आपको ज्यादा झंझट करने की भी जरूरत नहीं है। क्योंकि यह झटपट बन जाने वाली एक सुपर ड्रिंक है। भले ही आप को बाजारों में ना मिलती हो, लेकिन जामुन की सुपर ड्रिंक को आप घर पर ही आसानी से बना सकती हैं। आज हम आपको इसी के बारे में बताएंगे। कि कैसे आप जामुन की शिकंजी बना सकती हैं और आपको किन सामग्रियों की जरूरत होगी। हालांकि उसके पहले जामुन से मिलने वाले कुछ अनोखे फायदों और जामुन की खसियत के बारे में जानते हैं।

jamun shikanji recipe hindi
टेस्टी और हेल्दी है जामुन की शिकंजी। चित्र : tadke_di_vibe| instagram

औषधीय गुणों से भरपूर है जामुन

जामुन एक ऐसा फल है जो कई औषधीय गुणों से भरपूर है। आयुर्वेद में जामुन के पेड़ से लेकर जामुन के अंदर मौजूद गुठली तक का इस्तेमाल, कई रोगों के इलाज में किया जाता है। जिसमें सबसे ज्यादा डायबिटीज और उससे जुड़ी समस्याएं शामिल है। प्राचीन काल से जामुन की गुठली को सुखाकर उसका पाउडर बनाकर तैयार किया जाता है। आयुर्वेद के अनुसार जामुन की गुठली का यह पाउडर डायबिटीज के रोगियों को अपना ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल करने में सहायता देता है।

जामुन जिसे अंग्रेजी में ब्लैक प्लम (Black plum) के नाम से जाना जाता है यह प्रोटीन, फाइबर,एंटीऑक्सीडेंट, कैल्शियम,आयरन,फास्फोरस, पोटैशियम, मैग्निशियम विटामिन सी, और विटामिन 6 जैसे कई औषधीय गुणों से भरपूर है। गर्मियों के मौसम में जामुन का सेवन आपको कई बीमारियों से लड़ने की क्षमता देता है। विटामिन सी और आयरन हमारे शरीर में हीमोग्लोबिन बढ़ाता है और खून को साफ करता है।

जानिए जामुन से मिलने वाले 5 सेहत के लाभ

पिंपल को दूर करता है जामुन

यदि आपके चेहरे पर अक्सर पिंपल और दाग धब्बे बने रहते हैं तो इसका साफ मतलब है कि आपका खून साफ नहीं है। हालांकि जामुन का सेवन आपकी इसमें सहायता कर सकता है। जामुन में विटामिन सी होता है जो हमारे खून को साफ करने के लिए जाना जाता है वहीं जामुन में मौजूद हीमोग्लोबिन हमारे हर एक कोशिका तक ऑक्सीजन की मात्रा को भरपूर पहुंचाता है। यदि आप कील मुंहासे के चेहरे की अन्य समस्याओं से परेशान रहती हैं तो जामुन का रोजाना सेवन आपकी इसमें मदद कर सकता है। इसके लिए आप दिन में एक बार जामुन की शिकंजी का सेवन भी कर सकती हैं।

ब्लड प्रेशर के रोगियों के लिए अमृत है जामुन

यदि आपको ब्लड प्रेशर की समस्या है और आप है विडोज दवाइयां ले रही हैं तो जामुन का सेवन आपके लिए किसी अमृत से कम नहीं है। यह हाई ब्लड प्रेशर को कम करने में आपकी सहायता कर सकता है हालांकि यदि आपका ब्लड प्रेशर लो है तो आपको जामुन के सेवन से बचना चाहिए। दरअसल जामुन में पोटेशियम की मात्रा काफी अच्छी होती है। यह शरीर में हीमोग्लोबिन की मात्रा को बढ़ाता है जिससे हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से निजात पाया जा सकता है।

jaamun khane ke fayade
कई रोगों के इलाज में काम आती है जामुन। चित्र : Good bites with shalini | instagram

वेट लॉस में सहायता कर सकता है जामुन

आपकी वेट लॉस जर्नी में जामुन काफी मदद कर सकता है दरअसल जामुन फाइबर में उच्च होता है इसके साथ ही यह कैलोरी में कम भी होता है। यदि आप अपना वजन जल्दी कम करना चाहते हैं तो जामुन का सेवन आपके लिए एक आदर्श फल है। हालाकि आपको कितना सेवन करना चाहिए इसकी सलाह आपको अपने डॉक्टर से यह अपने डाइटिशियन से बात करने के बाद ही तय करना चाहिए।

ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल करने में सहायक है जामुन

डायबिटीज के रोगियों को जामुन का सेवन करने की सलाह दी जाती है। यह एक आयुर्वेदिक उपचार के तौर पर देखा जाता है। इसको घरेलू नुस्खा भी कहा जा सकता है। कई आयुर्वेदिक ब्रांड जामुन की गुठली के पाउडर को उपलब्ध कराती है। यह पाउडर बाजार में आसानी से उपलब्ध है। पर आप इसको घर पर भी जामुन की गुठली सुखाकर बना सकते हैं। यदि आपकी शुगर लो होती है तो आपको इस पाउडर के सेवन से बचना चाहिए हालांकि किसी भी हालत में आयुर्वेदिक डॉक्टर की सलाह लेना अनिवार्य है।

ओरल हेल्थ के लिए अच्छा है जामुन

यदि आप के मसूड़ों से खून आता है तो जामुन का सेवन आपकी मसूड़ों के समस्या को भी दूर कर सकता है। ज्यादातर इसके लिए जामुन के पत्तियों का इस्तेमाल किया जाता है लेकिन जामुन की पत्तियों के साथ-साथ जामुन में भी वह सभी औषधीय गुण मौजूद होते हैं जो आपके मसूड़ों को स्वस्थ बना सकें। जामुन का सेवन करने से मसूड़ों से खून आने की समस्या के साथ-साथ मुंह में छालों की समस्या से भी निजात मिल सकता है। आयुर्वेद में जामुन के पाउडर से दातून करने का अभी नियम है।

यह भी पढ़े : आयुर्वेद की सलाह : सुबह खाली पेट कभी ना करें सेब का सेवन

चाहिए अब बनाते हैं जामुन की शिकंजी (jaamun shikanji recipe)

पहले नोट कीजिए सामग्री

  1. जरूरत अनुसार जामुन
  2. स्वाद अनुसार नमक
  3. स्वास्थ्य के लिए थोड़ा काला नमक
  4. भुना जीरा 1 चम्मच
  5. नीबू का रस 2 चम्मच
  6. आधा चम्मच काली मिर्च पाउडर
  7. स्वाद के लिए चाट मसाला
  8. पुदीना की पत्ती
  9. बर्फ़
jamun ki shikanji banane ka asaan tareeka
बर्फ़ डाल के सर्व करिये जामुन की शिकंजी। चित्र : Kirti | इंस्टाग्राम

चलिए बनाते हैं जामुन की शिकंजी (jaamun shikanji recipe)

  1. सबसे पहले एक एयर टाइट जार ले उसमें जामुन और नमक को डालकर अच्छी तरह हिला ले। कुछ मिनट बादआप देखेंगे कि जामुन अपने बीच से अलग हो रहे हैं।
  2. जार को खोलें और जामुन के पल्प से बीजों को अलग कर दें। अब उसमें दो गिलास पानी डालें।
  3. पल्प को अच्छी तरह मत ले और उसमें सारे इंग्रेडिएंट्स शामिल करें। अच्छी तरह हिलाने के बाद उसे फ्रिज में ठंडा होने के लिए रख दें।
  4. 2 घंटे बाद उसे एक गिलास में सर्व करें। बर्फ डालें और पुदीना की पत्तियों के साथ गार्निश करें। आपकी जामुन शिकंजी तैयार है।

Akshansh

Owner Of E-Kalam News, Rapper At FreeFund Productions, works as a Freelance Hindi Journalist In Many Web News Channels, Having Ability To Work independently Is what I Learned From MySelf

Related Articles

Back to top button