IPL 2020 : मुंबई के गेंदबाजों का कहर, इतिहास में पहली बार 10 विकेट से हारी चेन्नई

अपने सबसे खराब दौर से गुजर रही चेन्नई सुपर किंग आज फिर से बुरी तरह हार गई जिससे चेन्नई सुपर किंग्स के प्लेऑफ में जाने की उम्मीदें पर भी पानी फिर गया।  धोनी की कप्तानी में अब तक का यह सबसे बुरा दौर रहा है।

बता दें अब तक हुए आईपीएल मैचों में चेन्नई सुपर किंग्स ने अब तक सिर्फ तीन मैच जीते हैं जिससे top4 में जगह बनाने की भी उम्मीदें पूरी तरह से खत्म नजर आ रही हैं आज खेले गए मैच में मुंबई इंडियंस ने चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला लिया जिसके बाद चेन्नई के बिट्टू की बौछार शुरू हो गई।

यह भी पढ़ें : आईपीएल 2020 : आज RR और SRH के बीच होगा ‘करो या मरो’ का मुकाबला, दोनों टीमें चाहेंगी मैच जीतना 

रोहित की कप्तानी की जगह पोलार्ड कप्तानी कर रहे थे इसके बाद गेंदबाजी की जिम्मेदारी जसप्रीत बुमराह और ट्रेंट बोल्ट की कहर बरपा थी गेंद के सामने चेन्नई सुपर किंग नतमस्तक सी नजर आई और पूरी टीम नौ विकेट पर कुल 114 रन ही बना सकी। 

chennai super kings

सैम करन के 52 रन का सबसे बड़ा योगदान रहा।  करण ने संभलकर खेलते हुए 45 गेदों में 2 छक्कों की बदौलत 52 रन बनाए जिसके जवाब में मुंबई इंडियंस ने 13 ओवर खत्म होने से पहले ही 10 विकेट से जीत दर्ज की।

यह भी पढ़ें : IPL 2020 : धवन ‘गब्बर’ ने ठोके ताबड़तोड़ लगातार 2 शतक, रच दिया इतिहास 

 धोनी की अगुवाई में पूरी टीम ने अभी तक का सबसे बेहद खराब प्रदर्शन किया है इससे पहले यह कभी देखने को नहीं मिला था चेन्नई सुपर किंग्स टीम में ना तो कोई बल्लेबाज और ना ही गीत बाद अपना प्रभाव छोड़ पाए हैं जिसके बाद अब ऐसा प्रतीत हो रहा है की चेन्नई सुपर किंग्स की टीम जल्द ही प्लेऑफ की दौड़ से बाहर हो जाएगी।