उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने बताया, यूपी में कब खुलेंगे यूनिवर्सिटी और कॉलेज

कोरोना कहर के चलते मार्च से बंद पड़े स्कूल कॉलेजों में अब थोड़ी रौनक दिखने लगी है। वहीं अभी भी यूपी में स्कूल कॉलेज खोलने का निर्णय लेना बाकी है उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने कहा कि विश्ववद्यालयों और महाविद्यालयों को खोलने का फैसला नवंबर में लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि स्कूलों में ऑफलाइन के साथ ऑनलाइन पढ़ाई भी जारी रहेगी।

यह भी पढ़ें : केंद्र सरकार का अभ्यर्थियों को तोहफा, अब सिर्फ एक बार देना होगा TET Exam

विधानसभा के उपचुनाव में प्रचार के बाद दिनेश शर्मा ने पत्रकारों से बातचीत की। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय और महाविद्यालय खोले जाने हैं। इसको लेकर संबंधित विभाग कितने तैयार हैं। उन्हें क्या सावधानियां बरतनी हैं, उस बारे में उन्हें बता दिया गया है। कॉलेज खोलने पर फैसला नवंबर में ले लेंगे।

यूनिवर्सिटी और कॉलेज
यूनिवर्सिटी और कॉलेज

उन्होंने कहा कि कक्षा नौ से 12वीं तक के स्कूल खोल दिए गए हैं। हालांकि अभी 15 फीसदी बच्चों की ही उपस्थिति हो रही है, लेकिन अच्छी बात ये है कि लोग स्वत: ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे हैं और सेनेटाइजिंग भी करा रहे हैं।   

कोरोना मरीजों से ज्यादा फीस वसूलने पर होगी कार्रवाई 

कोरोना मरीजों से ज्यादा फीस लेने वाले निजी अस्पतालों के खिलाफ कार्रवाई होगी। उन्होंने लोगों को अलर्ट करते हुए कहा कि अभी कोरोना के केस तेजी के साथ बढ़ सकते हैं। इसलिए सावधानी बरते जाने की जरूरत है। 

उपमुख्यमंत्री ने बताया कहा कि निजी अस्पतालों द्वारा निर्धारित से ज्यादा पैसे लेने पर उसके किलाफ प्रशासन द्वारा कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए जिलाधिकारी अस्पताल संचालकों के साथ बैठक करेंगे, उन्हें समझाएंगे, न मानने पर कार्रवाई भी होगी। उन्होंने कहा कि समितियों के पदाधिकारियों के साथ लगातार बैठकें हो रहीं हैं। सभी लोग कोरोना काल को समझ भी रहे हैं।

यह भी पढ़ें : IGNOU Admission के लिए बढ़ी आवेदन करने की तिथि, जल्द करें अप्लाई  

अभी नहीं गया है कोरोना 

डिप्टी सीएम ने एसएनएमसी में बेहतर इलाज के लिए जिलाधिकारी और अस्पताल प्रबंधन को निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कोरोना अभी गया नहीं है। सभी लोगों को मास्क लगाकर रखना है। साथ ही अन्य कोविड प्रोटोकाल का भी पालन करना है।