राहुल गांधी को अमित शाह का करारा जवाब, कहा 15 मिनट का फार्मूला 1962 में लागू करना चाहिए था

भारत चीन का विवाद काफी लंबे समय से चलता चला आरहा है ऐसे में विपक्ष मौजूदा केंद्र सरकार पर लगातार हमला बोल रहा है, बता दे हाल ही में चीनी सैनिकों की भारतीय सीमा में घुसपैठ का मामला सामने आया था, जिसके बाद कांग्रेस के बड़े नेता राहुल गांधी ने बयान देते हुए कहा कि मैं 15 मिनट में चीन को सीमा से भगा देते।

यह भी पढ़े : मिशन शक्ति : महिलाओं की सुरक्षा को तैयार योगी सरकार

अब इसी का करारा जवाब देते हुए अमित शाह ने कहा कि 15 मिनट में चीन को भगाने का फार्मूला 1962 में लागू करना चाहिए था, बता दे केंद्र गृह मंत्री अमित शाह ने भारत चीन सीमा पर तनाव को लेकर कांग्रेस के नेता राहुल गांधी की हालिया टिप्पणी पर तंज कसते हुए कहा कि विपक्षी पार्टी को 1962 में यह साहस दिखाना चाहिए था जब चीन ने भारत के बड़े हिस्से पर कब्जा कर लिया था अमित शाह ने कहा कि वैसे ही स्थिति आज नहीं दोहराई जाएगी।

क्या कहा था राहुल ने?

यह उल्लेखनीय है कि हाल ही में कृषि कानूनों के खिलाफ हरियाणा में एक रैली के दौरान कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जोरदार हमला किया था राहुल गांधी ने कहा था कि यदि कांग्रेस के पास आज सत्ता होती तो वह चीनी सैनिकों को मात्र 15 मिनट में खदेड़ देते।

यह भी पढ़े : सर्दी के मौसम में बढ़ सकता है कोरोना का खतरा, भारत खरीदेगा एक लाख मीट्रिक टन ऑक्सीजन

वही अमित शाह ने आगे कहा किस संबंध सुधारने का यह मतलब नहीं है कि आप राष्ट्रीय हित छोड़ देते हैं यह 1962 नहीं है मैं स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि हम किसी को देश की 1 इंच जमीन का कब्जा करने भी नहीं देंगे मोदी सरकार भारत की एक-एक इंच जमीन की सुरक्षा कर रही है।